Skip to main content

vcb;[[{"type":6},{"type":8,"all":0},{"type":3,"length":41,"frule":1,"third":0,"prmA":0,"prmB":0},{"type":4,"c":[129,672,129,672,129,672]},{"type":4,"c":[157,557,157,557,157,557]},{"type":4,"c":[116,580,116,580,116,580]},{"type":4,"c":[82,566,82,566,82,566]},{"type":4,"c":[74,540,74,540,74,540]},{"type":4,"c":[62,515,62,515,62,515]},{"type":4,"c":[67,483,67,483,67,483]},{"type":4,"c":[80,458,80,458,80,458]},{"type":4,"c":[95,433,95,433,95,433]},{"type":4,"c":[145,314,145,314,145,314]},{"type":4,"c":[156,273,156,273,156,273]},{"type":4,"c":[167,247,167,247,167,247]},{"type":4,"c":[209,211,209,211,209,211]},{"type":4,"c":[211,166,211,166,211,166]},{"type":4,"c":[232,129,232,129,232,129]},{"type":4,"c":[260,110,260,110,260,110]},{"type":4,"c":[288,104,288,104,288,104]},{"type":4,"c":[319,110,319,110,319,110]},{"type":4,"c":[339,126,339,126,339,126]},{"type":4,"c":[358,154,358,154,358,154]},{"type":4,"c":[368,194,368,194,368,194]},{"type":4,"c":[368,208,368,208,368,208]},{"type":4,"c":[395,245,395,245,395,245]},{"type":4,"c":[403,257,403,257,403,257]},{"type":4,"c":[417,273,417,273,417,273]},{"type":4,"c":[423,284,423,284,423,284]},{"type":4,"c":[422,307,422,307,422,307]},{"type":4,"c":[432,336,432,336,432,336]},{"type":4,"c":[465,363,465,363,465,363]},{"type":4,"c":[492,420,492,420,492,420]},{"type":4,"c":[522,466,522,466,522,466]},{"type":4,"c":[525,517,525,517,525,517]},{"type":4,"c":[510,532,510,532,510,532]},{"type":4,"c":[507,543,507,543,507,543]},{"type":4,"c":[498,564,498,564,498,564]},{"type":4,"c":[482,573,482,573,482,573]},{"type":4,"c":[438,583,438,583,438,583]},{"type":4,"c":[440,601,440,601,440,601]},{"type":4,"c":[445,626,445,626,445,626]},{"type":4,"c":[453,655,453,655,453,655]},{"type":4,"c":[458,672,458,672,458,672]}],[{"t":"Objc","v":{"classID":"null","keyOriginIndex":{"t":"long","v":0},"keyShapeInvalidated":{"t":"bool","v":true}}}]]

 vcb;[[{"type":6},{"type":8,"all":0},{"type":3,"length":41,"frule":1,"third":0,"prmA":0,"prmB":0},{"type":4,"c":[129,672,129,672,129,672]},{"type":4,"c":[157,557,157,557,157,557]},{"type":4,"c":[116,580,116,580,116,580]},{"type":4,"c":[82,566,82,566,82,566]},{"type":4,"c":[74,540,74,540,74,540]},{"type":4,"c":[62,515,62,515,62,515]},{"type":4,"c":[67,483,67,483,67,483]},{"type":4,"c":[80,458,80,458,80,458]},{"type":4,"c":[95,433,95,433,95,433]},{"type":4,"c":[145,314,145,314,145,314]},{"type":4,"c":[156,273,156,273,156,273]},{"type":4,"c":[167,247,167,247,167,247]},{"type":4,"c":[209,211,209,211,209,211]},{"type":4,"c":[21

ukraine russia news

यूक्रेन के अधिकारियों ने कहा है कि हाल के दिनों में बड़े पैमाने पर रूसी हमलों के बाद यूक्रेन भर में एक हजार से अधिक कस्बों और गांवों में बिजली नहीं है।


आपात सेवाओं के प्रवक्ता ऑलेक्ज़ेंडर खोरुन्झी ने कहा कि 7 अक्टूबर से अब तक रॉकेट और ड्रोन हमलों में 70 से अधिक लोग मारे गए हैं।

राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने कहा कि पिछले आठ दिनों में यूक्रेन के 30% बिजली स्टेशन नष्ट हो गए हैं।

मंगलवार को नई हड़ताल के बाद राजधानी कीव के कुछ हिस्सों में बिजली और पानी नहीं है।

कीव के मेयर विटाली क्लिट्स्को ने कहा कि नवीनतम रूसी हमलों के सभी तीन पीड़ित "महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे" के कर्मचारी थे, यह कहते हुए कि राजधानी में दो सुविधाएं प्रभावित हुईं।

राजधानी के पश्चिम में ज़ाइटॉमिर में बिजली और पानी काट दिया गया था, और दक्षिण-पूर्वी शहर निप्रो में एक ऊर्जा 


कीव में मंगलवार की ब्रीफिंग में, श्री खोरुन्झी ने कहा: "7 से 18 अक्टूबर की अवधि में, ऊर्जा सुविधाओं की गोलाबारी के परिणामस्वरूप, 11 क्षेत्रों [यूक्रेन के] में लगभग 4,000 बस्तियों को काट दिया गया था।

आपातकालीन सेवाओं के प्रवक्ता ने कहा, "वर्तमान में, ऊर्जा मंत्रालय के अनुसार, 1,162 बस्तियों में बिजली नहीं है।"

युद्ध के मैदान में कई दर्दनाक हार झेलने के बाद, रूस ने हाल के हफ्तों में सामने की तर्ज से दूर शहरों में बिजली के बुनियादी ढांचे पर हमले तेज कर दिए हैं।

यूक्रेन के आपातकालीन अधिकारी नुकसान की मरम्मत के लिए दौड़ पड़े हैं, लेकिन सर्दियों से पहले हुए हमलों ने इस बात को लेकर चिंता बढ़ा दी है कि सिस्टम कैसे प्रतिक्रिया देगा।

राष्ट्रपति कार्यालय के उप प्रमुख Kyrylo Tymoshenko ने कहा कि "हर किसी को बिजली बचाने के लिए तैयार रहना चाहिए, और दूसरा, अगर हड़ताल जारी रहती है तो रोलिंग पावर ब्लैकआउट भी संभव है"।

"पूरी आबादी को कड़ाके की सर्दी के लिए तैयार रहने की जरूरत है।"

यूक्रेनियाई लोगों से आग्रह किया जा रहा है कि वे स्थानीय समयानुसार 07:00 - 09:00 स्थानीय समय (04:00 - 06:00 GMT) और 17:00 - 22:00 के बीच बिजली के उपकरणों का उपयोग न करें। सुविधा प्रभावित हुई थी




नवीनतम हमले "कामिकज़े" ड्रोन के 24 घंटे बाद आए - माना जाता है कि ईरान द्वारा आपूर्ति की गई थी - उत्तर-पूर्व में कीव और सूमी में कम से कम नौ लोग मारे गए।

मंगलवार को ड्रोन किस हद तक शामिल थे, यह शुरू में स्पष्ट नहीं था।

यूक्रेन ने कहा कि रूसी हमलावरों ने मिसाइलें दागी थीं और एक एस-300 एंटी-एयरक्राफ्ट मिसाइल ने रात भर दक्षिणी शहर मायकोलाइव में एक आवासीय इमारत पर हमला किया था, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। शहर का फूल बाजार भी तबाह हो गया।


अन्य हमलों में मंगलवार तड़के

  • ज़ाइटॉमिर में, मेयर ने कहा कि शहर में कोई बिजली या पानी नहीं है और अस्पताल बैक-अप पावर पर काम कर रहे हैं।
  • अधिकारियों ने कहा कि ज़ाइटॉमिर क्षेत्र के 11 गांव भी बिजली के बिना थे।
  • केंद्रीय शहर निप्रो में बिजली और पानी की आपूर्ति बाधित हो गई, जहां एक बड़ी ऊर्जा सुविधा नष्ट हो गई, और अधिकारियों ने कहा कि स्ट्रीट लाइट बंद कर दी जाएगी
  • उत्तर-पूर्वी शहर खार्किवो में गोलाबारी की सूचना मिली थी
  • दक्षिणी शहर ज़ापोरिज्जिया में बुनियादी ढांचा प्रभावित हुआ, हालांकि स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि किसी को चोट नहीं आई है।

कुछ शहरों में, यूक्रेनियन बिजली जनरेटर और गैस बर्नर खरीद रहे हैं। कुछ शहर पहले से ही रोलिंग ब्लैकआउट का सामना कर रहे हैं।

एक अलग विकास में, यूक्रेन की राज्य परमाणु ऊर्जा कंपनी ने मास्को पर ज़ापोरिज्जिया में अपने परमाणु संयंत्र में दो वरिष्ठ अधिकारियों का अपहरण करने का आरोप लगाया।

यूरोप के सबसे बड़े संयंत्र पर रूसी सेना का कब्जा है, लेकिन यूक्रेन के कर्मचारी कठिन परिस्थितियों में वहां काम करना जारी रखते हैं।

कीव में मंगलवार की ब्रीफिंग में, श्री खोरुन्झी ने कहा: "7 से 18 अक्टूबर की अवधि में, ऊर्जा सुविधाओं की गोलाबारी के परिणामस्वरूप, 11 क्षेत्रों [यूक्रेन के] में लगभग 4,000 बस्तियों को काट दिया गया था।

यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने कहा कि वह राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की से तेहरान के साथ राजनयिक संबंध तोड़ने के लिए कहेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि तत्काल हवाई रक्षा आपूर्ति के लिए अपील करते हुए एक आधिकारिक नोट इसराइल को भेजा जाएगा।

इजरायल के अधिकारियों ने अब तक कीव को हथियार भेजने से रोक दिया है। एक रूसी सुरक्षा व्यक्ति, दिमित्री मेदवेदेव ने चेतावनी दी है कि अगर उन्होंने ऐसा किया, तो मास्को के साथ संबंध नष्ट हो जाएंगे।

इस बीच, फरवरी में रूस के युद्ध शुरू होने के बाद से सबसे बड़ी कैदी अदला-बदली में, 218 बंदियों का आदान-प्रदान किया गया - जिसमें 108 यूक्रेनी महिलाएं शामिल थीं।

और यूक्रेन से आज़ोव सागर के पार, एक रूसी लड़ाकू विमान दक्षिणी रूसी शहर येस्क में फ्लैटों के एक ब्लॉक के प्रांगण में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। तीन बच्चों सहित कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई, जबकि नौ मंजिला ब्लॉक से दर्जनों निवासियों को बचाया गया।

Su-34 विमान में सवार पायलट बाहर निकल गए।

Comments

Popular posts from this blog

psssb horticulter supervisor answer key 2022

Pssb horticulture supervisor answer key 2022 Punjab Punjab Subordinate Services Selection Board ( PSSSB ) has released the provisional answer key for the post of Supervisor (under Advt No 07/2021). Candidates who have appeared for the exam can check and download the answer key from the official website  sssb.punjab.gov.in .   final cut answer key all set download  Steps to download PSSSB Supervisor answer key 2022: Visit the official website  sssb.punjab.gov.in Click on “Public Notice regarding Advt. No. 07 of 2021(Supervisor) - Click here to view OMR sheet and Provisional Answer Keys” under the Advertisement tab Click on the answer key link The PSSSB Supervisor answer key will appear on the screen Download and check. Here’s a direct link to PSSSB Supervisor answer key 2022. all the best all examiner candidates

vcb;[[{"type":6},{"type":8,"all":0},{"type":3,"length":41,"frule":1,"third":0,"prmA":0,"prmB":0},{"type":4,"c":[129,672,129,672,129,672]},{"type":4,"c":[157,557,157,557,157,557]},{"type":4,"c":[116,580,116,580,116,580]},{"type":4,"c":[82,566,82,566,82,566]},{"type":4,"c":[74,540,74,540,74,540]},{"type":4,"c":[62,515,62,515,62,515]},{"type":4,"c":[67,483,67,483,67,483]},{"type":4,"c":[80,458,80,458,80,458]},{"type":4,"c":[95,433,95,433,95,433]},{"type":4,"c":[145,314,145,314,145,314]},{"type":4,"c":[156,273,156,273,156,273]},{"type":4,"c":[167,247,167,247,167,247]},{"type":4,"c":[209,211,209,211,209,211]},{"type":4,"c":[211,166,211,166,211,166]},{"type":4,"c":[232,129,232,129,232,129]},{"type":4,"c":[260,110,260,110,260,110]},{"type":4,"c":[288,104,288,104,288,104]},{"type":4,"c":[319,110,319,110,319,110]},{"type":4,"c":[339,126,339,126,339,126]},{"type":4,"c":[358,154,358,154,358,154]},{"type":4,"c":[368,194,368,194,368,194]},{"type":4,"c":[368,208,368,208,368,208]},{"type":4,"c":[395,245,395,245,395,245]},{"type":4,"c":[403,257,403,257,403,257]},{"type":4,"c":[417,273,417,273,417,273]},{"type":4,"c":[423,284,423,284,423,284]},{"type":4,"c":[422,307,422,307,422,307]},{"type":4,"c":[432,336,432,336,432,336]},{"type":4,"c":[465,363,465,363,465,363]},{"type":4,"c":[492,420,492,420,492,420]},{"type":4,"c":[522,466,522,466,522,466]},{"type":4,"c":[525,517,525,517,525,517]},{"type":4,"c":[510,532,510,532,510,532]},{"type":4,"c":[507,543,507,543,507,543]},{"type":4,"c":[498,564,498,564,498,564]},{"type":4,"c":[482,573,482,573,482,573]},{"type":4,"c":[438,583,438,583,438,583]},{"type":4,"c":[440,601,440,601,440,601]},{"type":4,"c":[445,626,445,626,445,626]},{"type":4,"c":[453,655,453,655,453,655]},{"type":4,"c":[458,672,458,672,458,672]}],[{"t":"Objc","v":{"classID":"null","keyOriginIndex":{"t":"long","v":0},"keyShapeInvalidated":{"t":"bool","v":true}}}]]

 vcb;[[{"type":6},{"type":8,"all":0},{"type":3,"length":41,"frule":1,"third":0,"prmA":0,"prmB":0},{"type":4,"c":[129,672,129,672,129,672]},{"type":4,"c":[157,557,157,557,157,557]},{"type":4,"c":[116,580,116,580,116,580]},{"type":4,"c":[82,566,82,566,82,566]},{"type":4,"c":[74,540,74,540,74,540]},{"type":4,"c":[62,515,62,515,62,515]},{"type":4,"c":[67,483,67,483,67,483]},{"type":4,"c":[80,458,80,458,80,458]},{"type":4,"c":[95,433,95,433,95,433]},{"type":4,"c":[145,314,145,314,145,314]},{"type":4,"c":[156,273,156,273,156,273]},{"type":4,"c":[167,247,167,247,167,247]},{"type":4,"c":[209,211,209,211,209,211]},{"type":4,"c":[21

Apple raises price of iPhone SE 3 (2022) by Rs 6000 in India

Apple raises price of iPhone SE 3 (2022) by Rs 6000 in India Apple ने भारत में iPhone SE 3 (2022) की कीमत में 6000 रुपये की बढ़ोतरी की Apple iPhone SE 2022 अभी 5G के साथ सबसे किफायती iPhones में से एक है, लेकिन हाल ही में इसकी कीमतों में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। Apple  ने भारत में अपने थर्ड-जेनरेशन iPhone SE की कीमत बढ़ा दी है।  IPhone SE 3, जिसे iPhone SE 2022 भी कहा जाता है, वर्तमान में Apple का सबसे किफायती iPhone है (पुराने iPhone 11 और iPhone 12 मॉडल पर बिक्री मूल्य शामिल नहीं है)। मार्च 2022 में लॉन्च होने पर  द्वारा:  टेक डेस्क मुंबई |  15 अक्टूबर, 2022 12:25:55 अपराह्न                       IPhone SE इस साल की शुरुआत में मार्च में 43,900 रुपये से शुरू हुआ था।  (एक्सप्रेस फोटो) डिवाइस की कीमत 43,900 रुपये से शुरू हुई थी। हालाँकि, कीमत अब बढ़ गई है और 49,900 रुपये से शुरू होती है।  यह 6,000 रुपये की बढ़ोतरी है, जो कि किफायती iPhone के लिए काफी बड़ी है। iPhone SE 2022 के अन्य सभी स्टोरेज वेरिएंट की कीमतों में भी बढ़ोतरी हुई है।  iPhone SE 3 128GB 48,900 रुपये से 54,900 रुपये और 25